शासनादेश व परिपत्र

/site/writereaddata/siteContent/department/vigyapti-hindi.pdf
क्र. सं.विवरणदेखें / डाउनलोड करें
1. अन्तर्राष्ट्रीय खेलों यथा-ओलम्पिक गेम्स, विश्व कप/विश्व चैम्पियनशिप (04 वर्ष के अन्तराल पर आयोजित होने वाले एशियन गेम्स एवं काॅमनवेल्थ गेम्स में उत्तर प्रदेश के मूल निवासियों के पदक विजेताओं को उत्तर प्रदेश के विभिन्न विभागों के अन्तर्गत राजपत्रित पदों पर सीधी भर्ती के माध्यम से नियुक्ति प्रदान किये जाने की व्यवस्था।
2. ओलम्पिक गेम्स-2016 में पदक विजेता खिलाड़ी को एकल वर्ग में स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर रू0 6.00 करोड़, रजत रू0 4.00 करोड़, कांस्य रू0 2.00 करोड़ तथा टीम गेम्स में स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर रू0 3.00 करोड, रजत रू0 2.00 करोड़, कांस्य रू0 1.00 करोड़ एवं प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ियों को प्रोत्साहन स्वरूप रू0 10.00 लाख का पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।
3. काॅमनवेल्थ गेम्स एवं एशियन गेम्स के पदक विजेता खिलाड़ियों को एकल वर्ग में स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर रू0 50.00 लाख, रजत रू0 30.00 लाख, कांस्य रू0 15.00 लाख तथा टीम गेम्स में स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर रू0 30.00 लाख, रजत रू0 15.00 लाख, कांस्य रू0 10.00 लाख एवं प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ी को प्रोहत्साहन स्वरूप रू0 5.00 लाख का पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।
4. वर्ष 2014-15 से लक्ष्मण/रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार से सम्मानित होने वाले खिलाड़ियों को रू0 50,000/- के स्थान पर अब रू0 3,11,000/- नगद प्रदान किये जाने की व्यवस्था।
5. अर्जुन पुरस्कार, द्रोणाचार्य पुरस्कार एवं खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित प्रदेश के खिलाड़ियों को अथवा खेल जगत में उपलब्धियों के दृष्टिगत पद्म श्री एवं पद्म भूषण से सम्मानित खिलाड़ियों को रू0 20,000.00 प्रतिमाह वित्तीय सहायता।
6. प्रदेश के भूतपूर्व प्रसिद्ध खिलाड़ियों/पहलवानों को दी जाने वाली वित्तीय सहायता में दोगुनी बढ़ोत्तरी।
7. स्पेशल ओलम्पिक विश्व समर गेम्स-यू0एस0ए0-2015 में उ0प्र0 के पदक खिलाड़ियों को स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर रू0 10.00 लाख, रजत दक प्राप्त करने पर रू0 5.00 लाख एवं कांस्य पदक प्राप्त करने पर रू 02.00 लाख की धनराशि पुरस्कार।
8. अंशकालिक मानदेय प्रशिक्षकों के 100 नये पदों की स्वीकृति प्रदान की गयी।
9. अंशकालिक प्रशिक्षकों के मानदेय में दोगुनी बढ़ोत्तरी की गयी है।
10. आवासीय क्रीड़ा छात्रावास, स्पोट्र्स कालेज एवं केन्द्रीय प्रशिक्षण शिविर तथा राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में भाग लेने वाले खिलाड़ियों की आहार दरों (डाइटमनी) में दोगुनी बढ़ोत्तरी की गयी है।
11. मान्यता प्राप्त खेल संघों के सामान्य वर्ग में खिलाड़ियों एवं मूक-बधिर/विकलांग खिलाड़ियों के राष्ट्रीय/राज्य स्तरीय अन्तरश्‍ााखा प्रतियोगिताओं के आयोजन हेतु क्रीडांगनों, कमरों तथा तरणताल आदि का नि:शुल्क आवंटन/आरक्षण की व्यवस्था।     
12. विभाग में तैनात अधिकारियों/प्रशिक्षकों का प्रथम बार प्रशिक्षण (रिफ्रेश्‍ार कोर्स) दिलाया जा रहा है जिसके अन्तर्गत बैडमिन्टन खेल के अधिकारियों/प्रशिक्षकों का रिफ्रेयर कोर्स दिनांक 11 से 13 दिसम्बर 2015 तक इण्डोनेशियाई कोच श्री हेनरा मुलयानो एवं सुश्री देवीटेरा अरी सेंडी द्वारा संचालित किया गया तथा फुटबाल खेल में कोएशियन फुटबाल फेडरेशन के तीन सदस्यीय टीम श्री ईवान केपसीजा, श्री टेहोमिर सेजीबेसिक एवं श्री ईवान पेरलिक द्वारा दिनांक 18 से 20 दिसम्बर, 2015 तक सेमिनार संचालित किया गया।
नियम एवं शर्तें | कॉपीराइट नीति | गोपनीयता नीति | हाइपरलिंकिंग नीति | मदद
उत्तर प्रदेश खेल विभाग की आधिकारिक वेबसाइट है।
इस वेबसाइट पर प्रकाशित विषयवस्तु व उसके प्रबंधन का कार्य खेल विभाग, उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा किया जाता है। इस वेबसाइट के बारे में किसी भी प्रश्न के लिए,
"वेब सूचना प्रबंधक : श्री आर0 डी0 कल्याण (संयुक्त सचिव, खेल)" से संपर्क करें।
© खेल विभाग, उ० प्र०, भारत | सर्वाधिकार सुरक्षित
आगंतुक संख्या :
अंतिम नवीनीकृत तिथि : गुरुवार, Aug 10 2017 10:37AM
यह वेबसाइट यूपीडेस्को के माध्यम से ओमनी नेट द्वारा डिजाइन व डेवलप की गई