छात्रावास

यहाँ छात्र के रहने हेतु वांछित सुविधा युक्त छात्रावास है। छात्रावास मे डार्मेटरीज़ है जिनमें छात्र/छात्राओं हाउस पद्धति के आधार पर मिलजुल कर रहते हैं। प्रत्येक हाउस में एक हाउस कप्तान तथा हाउस उप-कप्तान होता है। इसके अतिरिक्त प्रत्येक डार्मेटरीज़ में प्रीफेक्ट होते हैं जो अपने-अपने हाउस तथा डार्मेटरी की देख-रेख एवं व्यवस्था में मदद करते हैं। सम्पूर्ण छात्रावास का एक कालेज कप्तान एवं उप-कप्तान होता है जो छात्रावास के रख-रखाव में हाउस मास्टर/वार्डेन तथा कालेज प्रश्‍ाासन की सहायता करता है। प्रत्येक हाउस में हाउस मास्टर है जो छात्रों के अभिभावक के रूप में देखभाल करते हैं।

मनोरंजन-

छात्र के मनोरंजन हेतु कालेज में रंगीन एल0सी0डी0 एवं ओपेन एयर थियेटर है जिसमें छात्र को खेल सम्बन्धी ज्ञान वर्धक एवं मनोरंजन कार्यक्रम समय अनुसार दिखाये जाते हैं।

प्राइवेट टयूशन-

कालेज में पढ़ने वाले छात्र के लिये प्राइवेट टयूशन की अनुमति नहीं है। कालेज प्रशासन द्वारा कमजोर छात्र के लिय विशेष कक्षाएं एवं अधिक पढ़ाई की सुविधा उपलब्ध करायी जाती है।

चिकित्सा सुविधा-

कालेज में एक स्वास्थय केन्द्र एवं एक चिकित्साधिकारी है। गम्भीर रूप से बीमार होने पर छात्रों को मेडिकल कालेज या सरकारी अस्पताल भेजकर उनके अभिभावक को सूचित कर दिया जाता है। चिकित्साधिकारी द्वारा हर तीसरे महीने समस्ता छात्रों की मेडिकल परीक्षा की जाती है एवं उनकी शारीरिक विकास का अभिलेख भी चिकित्साधिकारी द्वारा तैयार किया जाता है जिसमें अभिभावक को छात्र के शारीरिक विकास के सम्बन्ध में रिपोर्ट भी आवश्यकता होने पर मिल सके। छात्र के बीमार होने पर कालेज के बाहर के चिकित्साधिकारी के रिफर करने एवं प्रधानाचार्य की अनुमति के उपरान्त ही छात्र के अभिभावक कालेज के बाहर इलाज कराने हेतु ले जा सकते हैं।

कालेज मेस (भोजनालय)-

यहाँ पर समस्त छात्र/छात्राओं हेतु एक साथ बैठकर भोजन करने की व्यवस्था है। सभी छात्र अपने खेल अध्यापक एवं हाउस मास्टर की देख-रेख में भोजन ग्रहण करते हैं।

सामिष एवं निरामिष (Veg and Nonveg) दोनो प्रकार का भोजन दिया जाता है। कालेज द्वारा निर्धारित किये गये मीनू में इस बात का प्रयत्न किया जाता है कि प्रत्येक छात्र को प्रतिदिन लगभग 5000 कैलोरीज युक्त भोजन दिया जाये और साथ ही भोजन स्वादिष्ट भी हो। भोजन में कैलोरीज की जाँच समय-समय पर प्रधानाचार्य एवं चिकित्साधिकारी द्वारा की जाती है।

कपड़े-

सत्र के प्रारम्भ होने पर सभी छात्र को एपेन्डिक्स "डी" के अनुसार कपड़े एवं अन्य सामग्री लाना अनिवार्य है अन्यथा उन्हें प्रवेश प्रदान नहीं किया जायेगा। कक्षा 6 के छात्र प्रवेश के समय कालेज यूनीफार्म (सफेद टेरीकाट हाफ शर्ट, नेवी ब्लू टेरीकाट पैन्ट, सफेद मोजे एवं ब्लैक शूज) साथ में अवश्य लायें।

एपैन्डिक्स "सी" में दशार्यी गर्यी यूनीफार्म, किट एवं अन्य सामग्री छात्र को कालेज द्वारा दी जाती है जिसका व्यय शासन द्वारा वहन किया जाता है।

दिनचर्या-

छात्र की दिनचर्या प्रातःकाल से प्रारम्भ होती है जो पी0टी0, योगासन, फिजीकल, कन्डीशनिंग, खेल प्रशिक्षण, पढ़ाई एवं अध्ययन आदि के साथ रात्रि में समाप्ति होती है। छात्र को एक कठोर दिनचर्या का पालन करना पड़ता है। फिर भी प्रयत्न किया जाता है कि उन्हें अपनी रूचियों के लिये भी समय मिल जाये।

अभिभावक द्वारा अनुबन्ध (एग्रीमेन्ट)-

कालेज में प्रवेश पाने वाले समस्त छात्र/छात्राओं के माता/पिता/अभिभावकाे को एपेन्डिक्स "ई" के अनुसार एग्रीमेन्ट करना अनिवार्य है। माता/पिता अभिभावकों को सलाह दी जाती है कि यह विवरण पुस्तिका (प्रास्पेक्टस) एवं कालेज नियमों को भली प्रकार अध्ययन करें एवं कालेज के नियमों आदि से पूर्ण रूप से स्वयं एवं छात्र को अवगत कराये।

निःशुल्क सुविधाएं-

5000 कैलोरीज युक्त संतुलित भोजन, आवास, खेल का सामान, कालेज यूनीफार्म, पाठ्य पुस्तकें एवं लेखन सामग्री, पुस्तकालय तथा चिकित्सा सहायता आदि छात्र को नि:शुल्क प्रदान की जाती है।

सामुदायिक रहन-सेहन

शिक्षण, खेल प्रशिक्षण के अतिरिक्त छात्र/ छात्राओं को एक साथ रहकर अनुशासन, सदव्यवहार एवं एक साथ कार्य करने की भावना हेतु प्रेरित किये जाते है। रविवार एवं अवकाश के दिन छात्र से सामूहिक रूप से श्रमदान आदि कराया जा सकता है।

नोटः- प्रत्येक छात्र के लिये यह आवश्यक होगा कि धार्मिक पूजा अर्चना विद्यालय परिसर के अन्दर रहकर ही अपने व्यक्तिगत स्तर पर ही करें। इसके लिये परिसर के बाहर जाना वर्जित होगा।

>