स्पोर्ट्स हाॅस्टल

आवासीय क्रीड़ा छात्रावास

खेल विभाग की महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक योजना आवासीय क्रीड़ा छात्रावास है। जिसके अन्तर्गत जिला, मण्डल एवं राज्य स्तरीय चयन/ट्रायल्स में चयन करके उदीयमान खिलाड़ियों का 15 दिवसीय केन्द्रीय प्रशिक्षण शिविर संचालित कराया जाता है। इस शिविर के अन्तिम दिवसों में क्रीड़ा छात्रावासों में प्रवेश हेतु उदीयमान खिलाड़ियों का चयन खेल विशेषज्ञों की समिति द्वारा किया जाता है। इस योजना के अन्तर्गत निम्नलिखित तालिका के अनुसार विभिन्न खेलों में बालक/बालिकाओं को प्रवेश दिया जाता है, जिसके अन्तर्गत उन्हें आवासीय सुविधा, भोजन, शिक्षा, चिकित्सा, खेल किट, उपकरण आदि की नि:शुल्क सुविधा प्रदान की जाती है। एक खिलाड़ी पर प्रतिवर्ष रू0 89,950/- व्यय होता है। वर्तमान में 18 जनपदों में 16 खेलों में 36 छात्रावास हैं। इनमें विभिन्न खेल छात्रावासों में बालकों की संख्या - 630 एवं बालिकाओं की संख्या-110, कुल खिलाड़ियों की संख्या-740 निर्धारित है। आवासीय क्रीड़ा छात्रावासों की विवरण निम्नवत् है :-

क्र0सं0 खेल का नाम वर्ग जनपद निर्धारित संख्या
1 हॉकी बालक लखनऊ 28
    बालक वाराणसी 27
    बालक रामपुर 27
    बालक सैफई, इटावा 27
    बालिका लखनऊ 30
2 तैराकी बालक लखनऊ 20
3 वालीबाल बालक फैजाबाद 15
    बालक इलाहाबाद 15
    बालक बांदा 15
    बालक देवरिया 15
    बालिका लखनऊ 15
4 जिम्नास्टिक बालक आगरा 15
    बालिका लखनऊ 10
5 एथलेटिक्स बालक इलाहाबाद 30
    बालक सैफई, इटावा 25
    बालिका लखनऊ 20
6 क्रिकेट बालक कानपुर 25
    बालक मेरठ 25
    बालक फतेहपुर 25
    बालक देवरिया 25
7 फुटबाल बालक वाराणसी 27
    बालक फैजाबाद 27
    बालक बरेली 27
8 बैडमिण्टन बालक मेयोहाल, इलाहाबाद 15
9 टेबल टेनिस बालक आगरा 10
10 बास्केटबाल बालक गोरखपुर 20
    बालिका आकरा 20
11 कबड्डी बालक अमेठी 15
    बालिका आगरा 15
12 कुश्ती बालक मेरठ 20
    बालक गोरखपुर 20
13 बॉक्सिंग बालक मेरठ 15
    बालक झांसी 15
14 हैण्डबाल बालक अमेठी 15
15 जूडो बालक सहारनपुर 25
16 तीरंदाजी बालक सोनभद्र 20
        740

आवासीय छात्रावास योजना के अन्तर्गत बालकों हेतु रू0 323.95 लाख एवं बालिकाओं हेतु रू0 52.80 लाख की व्यवस्था है।

आवासीय क्रीड़ा छात्रावासों के खिलाड़ियों ने वर्ष 2014-15 में 22 स्वर्ण, 26 रजत एवं 17 कांस्य पद अर्जित किया है तथा 01 अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर एवं 129 राष्ट्रीय स्तर पर खिलाड़ियों ने प्रतिभाग किया है।

निर्मित छात्रावास भवन - कुल संख्या - 16

आगरा झांसी बांदा लखनऊ बरेली मेरठ रामपुर अमेठी वाराणसी
गोरखपुर कानपुर सैफई (इटावा) फैजाबाद इलाहाबाद फतेहपुर आजमगढ़    

निर्मित डारमेट्री - कुल संख्या - 08

लखनऊ (200 बेडेड) सहारनपुर आगरा (80 बेडेड) मुजफ्फरनगर (56 बेडेड) मथुरा (64 बेडेड) हरदोई सोनभद्र (बालक / बालिका) कौशाम्बी

निर्माणाधीन डारमेट्री - कुल संख्या - 02

मऊ (56 बेडेड) अम्बेडकर नगर (64 बेडेड)