अवस्थापना विकास

अवस्थापना विकास-

खेल विभाग द्वारा प्रदेश के विभिन्न जनपदों में खिलाडियों को खेल अवसर एवं प्रशिक्षण आदि की सुविधा प्रदान किये जाने हेतु क्रीड़ा प्रतिष्ठानों का निर्माण कराये जाने का लक्ष्य है जिसके अर्न्तगत प्रत्येक जनपद पर क्रीड़ांग का निर्माण कराया जाना प्रस्तावित है। इसी प्रकार जिन-जिन जनपदों में तैराकी व इन्डोर खेल लोकप्रिय है उन जनपदों में तरणताल तथा बहुउद्देशीय क्रीड़ाहाल का निर्माण कराया जाता है। इसके अन्तर्गत अब तक प्रदेश में खेल विभाग के अन्तर्गत विभिन्न जनपदों में निम्नलिखित खेल अवस्थापनाओं का सृजन किया गया है:-

1 खेल मैदान 71
2 बहुउद्देशीय क्रीड़ाहाल 68
3 तरणताल 38
4 एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान 11
5 फ्लड लाइट युक्त एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान 02
6 सिन्थेटिक बास्केटबॉल कोर्ट 16
7 सामान्य बास्केटबॉल कोर्ट 28
8 सिन्थेटिक टेनिस कोर्ट 12
9 सिन्थेटिक रंनिग ट्रैक 02
10 कुश्ती हॉल 11
11 टेबुल-टेनिस हॉल 02
12 शूटिंग रेन्ज 06
13 छात्रावास भवन 18
14 डारमेट्री 19
15 जिम्नेजियम हॉल 03
16 वेटलिफ्टिंग हॉल 11
17 इण्डोर वालीबाल हॉल 02
18 जूडोहॉल 02
19 मिनी स्टेडियम 02
20 फ्लड लाइट युक्त क्रिकेट स्टेडियम 01(ग्रीनपार्क)
21 अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का तरणताल 01
22 स्पोर्टस काम्पलेक्स 03

निर्माणधीन खेल अवस्थापनाये:-

1 खेल मैदान 07
2 बहुउद्देशीय क्रीड़ाहाल 01
3 एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान 02
4 छात्रावास भवन 01
5 अन्तर्राष्ट्रीय क्रीड़ा संकुल 01
6 स्पोर्टस कॉलेज 03
7 अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैदान सैफई में निर्माणधीन 01

खेल के विकास हेतु प्रदेश में 03 स्थानों, लखनऊ में गुरू गोविन्द सिंह स्पोर्टस कॉलेज, गोरखपुर में बीर बहादुर सिंह स्पोर्टस कॉलेज जनपद इटावा के सैफई में सैफई स्पोर्टस कॉलेज संचालित है।